Balo me Rusi Hone Ke Karan l hair dandruff l Rusi ke 30+ prakrtik Upay by gyanpointweb

बालों में रुसी होने के कारण और रुसी के 30+ प्राकृतिक उपचार

रूसी होने का कारण BY GYANPOINTWEB.CO,

रूसी होने का कारण BY GYANPOINTWEB.COM

परिचय:-

Balo me Rusi Hone Ke Karan l hair dandruff l Rusi ke 30+ prakrtik Upay

Rusi सिर में मरी हुई त्वचा के कण होते हैं, जो नई त्वचा के आने से हटते रहते हैं। इन्हीं कणों को रूसी कहते हैं। यह रोग स्त्री और पुरुष दोनों में ही पाया जाता है। ज्यादातर लोगों को यह पता नहीं होता कि उनके Balo  में होने वाली रूसी तैलीय है या रूखी। रूखी रूसी के कण बहुत ही छोटे होते हैं, जो सिर की त्वचा से चिपके या Balo  में फैले रहते हैं। ऐसी रूसी में बहुत खुजली होती है। जबकि तैलीय Rusi छोटे कणों के साथ सीबम से मिली होती है। कई बार रूसी ज्यादा हो जाने से Balo  का गिरना भी शुरू हो जाता है।

    Rusi Balo  की सबसे बड़ी दुश्मन है। इसके कारण बाल अपना आकर्षण खो देते हैं। इस रोग के कारण सिर पर खुश्की होकर सफेद-सफेद रूसी Balo  में हो जाती है। जब Balo  में ब्रश या कंघा करते हैं या Balo  को रगड़ते हैं तो यह Balo  से निकलकर बाहर गिरने लगती है। यह खोपड़ी पर दाने या पपड़ी के रूप में भी निकल सकती है। यदि इन्हें Balo  से बाहर न निकाला जाए तो यह वहां के रोमकूपों को बंद कर देती है।

          अगर Balo  को साफ न रखा जाए तो उनमें रूसी पैदा हो सकती है और यह फैलने वाली होती है। इसलिए अपने कंघे, ब्रश, साबुन और तौलिए को अलग रखना चाहिए। Balo  को सप्ताह में जितनी बार ज्यादा से ज्यादा हो धोना चाहिए।

Balo me Rusi Hone Ke Karan l hair dandruff l Rusi ke 30+ prakrtik Upay

रूसी होने का कारण:-
·         यह body में दूषित द्रव्य के जमा हो जाने तथा गलत तरीके के खान-पान और दूषित भोजन का सेवन करने के कारण होती है।
·         सिर की ठीक तरीके से सफाई न करने के कारण भी सिर में Rusi हो सकती है।
·         जिस व्यक्ति के Balo  में रूसी हो उसके द्वारा इस्तेमाल किये गये कंघी, तौलिये, ब्रश आदि दूसरे व्यक्तियों को इस्तेमाल नहीं करने चाहिए नहीं तो दूसरे व्यक्ति के Balo  में भी Rusi हो सकती है।
·         body में रोग प्रतिरोधक क्षमता (रोगों से लड़ने की शक्ति) कम होने के कारण तथा भावनात्मक तनाव के कारण भी हो Rusi का रोग हो सकता है।
Balo me rusi को खत्म करने के लिए प्राकृतिक चिकित्सा से उपचार:-
·         पानी में नींबू का रस मिलाकर 1 सप्ताह तक प्रतिदिन Balo  की जड़ों में अंगुलियों से अच्छी तरह से मसल लें। फिर थोड़ी देर बाद Balo  को धो दें। इससे Balo  में से रूसी खत्म हो जाती है।
·         3 भाग जैतून के तेल में 1 भाग शहद घोल लें। इस मिश्रण को सिर और Balo  पर लगाकर सिर पर गर्म तौलिया लपेट लें। इसके बाद सिर को अच्छी तरह से धोने से Balo  की रूसी खत्म हो जाती है।
·         नारियल के तेल में चार प्रतिशत कपूर मिलाकर रख लें। फिर अपने Balo  को अच्छी तरह से धोकर Balo  को सुखा लें। इसके बाद इस तेल को Balo  में लगाकर सिर की अच्छी तरह से मालिश करें। इससे रूसी खत्म हो जाती है।
·         आंवला, शिकाकाई तथा रीठा को एक साथ पानी में भिगोकर उस पानी से सिर को धोयें। इस क्रिया को 2-3 दिन तक करने से Balo  में से रूसी खत्म हो जाती है।
·         रोजाना जैतून के गुनगुने तेल से सिर की मालिश करें। फिर गर्म पानी में तौलिया भिगोकर अच्छी तरह से निचोड़कर पूरे सिर में बांध लें। इससे तेल और भाप Balo  की जड़ों तक पहुंच जाता है। 3 घंटे के बाद गुनगुने पानी से Balo  को अच्छी तरह से धोने से Balo  मे से सारा शैंपू निकल जाता है।
Balo me Rusi Hone Ke Karan l hair dandruff l Rusi ke 30+ prakrtik Upay
·         दही या मट्ठे से सिर धोने से भी लाभ होता है।
·         सरसों के तेल में नींबू मिलाकर या सिरके में बहुत सारा पानी मिलाकर Balo  की जड़ों में लगाकर लगभग 2 घंटे के बाद सिर को धोएं। इससे Balo  में से रूसी कम हो जाती है।
·         Balo  में रूसी होने पर प्रतिदिन सुबह के time में अपने सिर की सूखी मालिश करने से Balo  में से रूसी खत्म हो जाती है।


·         दही में थोड़े से सरसो के तेल को मिलाकर प्रतिदिन इस दही को सिर पर कुछ time के लिए लगाकर फिर Balo  को अच्छी तरह से धोने से रूसी खत्म हो जाती है।
·         रोजाना आधे घंटे तक सिर पर दही की मालिश करके सिर को धोने से रूसी खत्म हो जाती है।
·         मेथी के बीजों को रात के time में पानी में भिगोने के लिए रख दें। सुबह के time में इसे पीसकर लेप बनाकर सिर पर लगाएं और आधे घंटे के बाद सिर को धो लें।
·         Balo  को ब्रश, शैंपू और कंघी से साफ-सुथरा रखें। संतुलित तथा सही से पचने वाला भोजन लें। पूरे सप्ताह में 2 बार गर्म तेल से सिर की मालिश करनी चाहिए।
·         रोजाना रोजमेरी के काढ़े से सिर की मालिश करने से लाभ मिलता है।
·         गर्म पानी में 1 नींबू का रस मिलाकर Balo  में लगाकर फिर सिर को धोने से रूसी में लाभ होता है। Balo  को धोने से पहले सिर की त्वचा में तेल की मालिश के बाद गर्म या ठंडे पानी में भीगा हुआ तौलिया लपेट लें। इससे त्वचा के रोम-छिद्र खुल जाते हैं, खून का बहाव तेज होता है और रूसी भी दूर होती है।
·         सुबह के time में जब धूप निकल जाए तब कम से कम आधे घंटे तक सूर्य का प्रकाश अपने सिर पर लगने दें। इसके बाद मुलतानी मिट्टी का लेप बनाकर सिर पर लगा लें और कुछ देर बाद सिर को धो लें इससे रूसी खत्म हो जाती है।
·         1 अंडे की सफेदी और 1 नींबू के रस को मिलाकर सिर पर आधे घंटे के लिए लगाएं। फिर इसे सादे पानी से धो लें। अंत में सिरका सादे पानी में मिलाकर Balo  को धोने से लाभ मिलता है।
·         सूर्यतप्त नीले तेल की मालिश सिर पर कुछ दिनों तक करने से रूसी खत्म हो जाती है।

Balo में रुसी होने के कारण और रुसी के 30+ प्राकृतिक उपचार
·         body में से दूषित द्रव्यों को बाहर करने के लिए व्यक्ति को सप्ताह में एक बार उपवास रखना चाहिए तथा पत्ता गोभी का रस, पालक का रस, अन्ननास का रस सेवन करना चाहिए। एक सप्ताह तक बिना पका हुआ भोजन करना चाहिए। इसके बाद सामान्य भोजन करना चाहिए और भोजन में फल, अंकुरित दालें तथा सलाद अधिक लेने चाहिए।
·         चाय, मिर्च-मसालेदार, कॉफी, रिफाइंड वाले पदार्थ तथा मैदा से बनी चीजों का सेवन न करें। पेट को साफ करने के लिए एनिमा क्रिया की आवश्यकता पड़े तो यह क्रिया जरूर करनी चाहिए।

Balo me Rusi Hone Ke Karan l hair dandruff l Rusi ke 30+ prakrtik Upay

जानकारी-

       इस प्रकार से रूसी को खत्म करने के लिए प्राकृतिक चिकित्सा से उपचार किया जाए तो Balo  की रूसी जल्द दूर हो जाती है।

Post a Comment

0 Comments