Through which technology is the object displayed in films big or small?


Through which technology is the object displayed in films big or small?

नमस्कार दोस्तों | हमने तो फिल्म देखी है और इस फिल्म में कई चीजों को छोटा बड़ा करके दिखाया जाता है | कभी छोटी सी बस को बड़ा करके दिखाया जाता है तो किसी बड़े से आदमी को छोटा करके दिखाया जाता है यह सब कैसे किया जाता है आज हम इसी के बारे में इस आर्टिकल में बात करेंगे |

जैसा कि आप जानते हैं | तकनीकी में लगातार विकास हो रहा है जिससे के कारण भी हम आसानी से किसी भी वस्तु को छोटा बड़ा दिखा सकते हैं | फिल्मों में पोस्ट पर्सपेक्टिव की मदद से किसी भी वस्तु को छोटा बड़ा दिखाया जा सकता है हमें कोई वस्तु छोटी या बड़ी कब लगती है जब हम किसी वस्तु को किसी दूसरी वस्तु के साथ तुलना करते हैं | तो हमें वस्तु छोटी या बड़ी दिखाई देती है ऐसी तकनीक का इस्तेमाल हम फिल्म जगत में करते हैं |

जिन चीजों को बड़ा दिखाना होता है उसमें कैमरे को जूम कर देते हैं और जिस चीज को हमें छोटा दिखाना होता है | उसे हम जो नहीं करते जिसके कारण दोनों समान बराबर की वस्तुओं में भिन्नता आ जाती है और हमें वस्तु छोटी और बड़ी दिखाई देती है और भी क्या तकनीकी प्रयोग की जाती है | हम इस वीडियो में विस्तार से जानेंगे तो आप से निवेदन है कि आप इस वीडियो को पूरा देखें और उसमें बताई गई बातों का आनंद लें और अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगे तो हमें कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं |

Post a Comment

0 Comments